Breaking News
Home / अपराध / विदेशी महिला ने पति को लिखा था, मैं परेशान हूं नहीं समझ में आती भाषा, पति ने डिलेवरी के समय लौटने का वादा किया था लेकिन…

विदेशी महिला ने पति को लिखा था, मैं परेशान हूं नहीं समझ में आती भाषा, पति ने डिलेवरी के समय लौटने का वादा किया था लेकिन…

यूक्रेन एंबेसी के जरिए मृतका के माता पिता दी गई मामले की  जानकारी

लखनऊ। राजधानी के आशियाना इलाके में यूक्रेन की महिला ने बच्चे को जन्म देने के चार दिन बात शनिवार को मकान में मौजूद स्टोर रूम में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। जिसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था।और मामले की जानकारी यूक्रेन एमबेसी को पहुंचा दी थी। वहीं अब पुलिस की शुरूआती जांच में विदेशी महिला की वाटएपस चैट सामने आने की बात आ रही है। जहां महिला ने पति से बात करते हुए लिखा था। मैं परेशान हूं नही समझ में आती भाषा । जिसपर पति ने जल्द वापस लौटने की बात कही मगर वो जल्द नही आ सका । जानकारी के अनुसार ओकसाना ममचर 27वषीय पौलेड़ में रहकर नौकरी कर रही थी। और जूड अगास्टीन जो चेक रिपब्लिक में रहकर पीएचडी कर रहा था।

दोनों की मुलाकात पौलेड में हुई और धीरे-धीरे दोस्ती बढ़ी और शादी करने को तैयार हो गए जब ओकसाना ने अपने परिवार वालों शादी की बात कही तो उसके पिता ने इंकार कर दिया । जिसके बाद दोनों ने शादी कर ली और साथ रहने लगे जब ओकसाना गभवती हो गई तो जूड ने उसे अपनी मां रूथ मीनूवाज के पास जो लखनऊ के आशियाना के सेक्टर आई के मकान नम्बर1514 के पास भेज दिया। जहां उसकी मां और दो नंदो के साथ करीब दो तीन माह से रहे रही थी।

14 को जब उसकी तबीयत खराब हुई तो उसे इलाके के एक नासिग होम में भर्ती कराया जहां उसने बेटा हुआ। तीन दिन बाद घर लौटने पर शनिवार को घर में मौजूद स्टोर रूम में पंखे की हुक में रस्सी का फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली थी। प्रभारी निरीक्षक के अनुसार शुरूआती जांच पड़ताल में कोई बड़ी वजह सामने नही आई लेकिन परिजनों के अनुसार महिला की डिलेवरी के वक्त पति जूड अगास्टीन उसकी डिलेवरी के वक्त आने वाला था, लेकिन नही लौट सका था, वहीं उसे भाषा को लेकर भी परेशानी थी। पोस्टमार्टम रिर्पोट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Check Also

बाराबंकी : संदिग्ध परिस्थितियों में बालिका की मौत, कहीं हत्या तो नहीं

देवा थाना क्षेत्र के मोहल्ला कचेहरान में 12 वर्षीय बालिका का शव छत में लगे ...