Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / यूपी में 72 घंटे तक भारी बरसात का अलर्ट, मथुरा में यमुना ने खतरे के निशान को किया पार

यूपी में 72 घंटे तक भारी बरसात का अलर्ट, मथुरा में यमुना ने खतरे के निशान को किया पार

यूपी में बारिश का दौर जारी है। गाजियाबाद, नोएडा और सहारनपुर में नदियों के तटबंध टूटने से कई गांवों और कॉलोनियों में बाढ़ आ गई है। वाराणसी में सुबह से रुक-रुक कर बारिश हो रही है। जिसके चलते गंगा का जलस्तर बढ़ गया है और घाटों तक पानी आ गया है। कुछ छोटे मंदिरों में भी पानी घुस गया है।

उधर, वाराणसी रिंगरोड पर रविवार को हादसा हो गया। बारिश में रील बना रहे कपल की तेज रफ्तार बाइक फिसल कर फ्लाईओवर से नीचे रेलवे के अवर अभियंता सर्वेश शंकर सिंह (26 वर्ष) के ऊपर गिर गई, जिससे उनकी घटनास्थल पर ही मौत हा गई।

जबकि बाइक पर सवार सर्वेश का दोस्त गंभीर रूप से जख्मी हो गया। हादसे में रील बनाने वाले युवक और युवती को भी चोट आई है। सभी को गंभीर हालत में मंडलीय अस्पताल लाया गया, लेकिन यहां पहुंचने से पहले ही युवती भाग निकली। दोनों घायल युवकों की हालत स्थिर बनी हुई है।

30 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट
मौसम विभाग ने अगले 72 घंटे तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मेरठ, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, शामली समेत 30 जिलों में भारी बारिश का अंदेशा जताया है। लखनऊ में लोगों को खुले में ना घूमने की चेतावनी दी गई है। लोगों को असुरक्षित भवनों, पेड़ों के संपर्क में आने से बचने को कहा गया है।

नोएडा में दीवार गिरी, बच्चे की मौत
बारिश के चलते नोएडा वाजिदपुर गांव में चारदीवारी की दीवार गिर गई। इस हादसे में 6 साल के बच्चे समेत 4 लोग घायल हो गए। थोड़ी देर बाद बच्चे की मौत हो गई। वहीं तीन घायलों को फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मथुरा में यमुना ने खतरे के निशान को किया पार

कानपुर में गंगा नदी का जलस्तर भी लगातार बढ़ रहा है। खतरे के निशान से नदी बस 1 मीटर नीचे बह रही है। मथुरा में यमुना खतरे के निशान को पार कर गई है। 40 गांव और 12 कॉलोनी में पानी भर गया है। आगरा से आई ताजा तस्वीरों में दिख रहा है, बेलनगंज स्ट्रेची ब्रिज तक यमुना का पानी आ चुका है। लोगों को यहां चलना भी मुश्किल है। दरअसल, यमुना का जलस्तर 495.80 तक पहुंच चुका है। फ्लड लेवल 495 फीट से यमुना ऊपर बह रही है। आगरा में पिछली बार 1978 में बाढ़ आई थी। यमुना का जलस्तर 508 मीटर तक पहुंच गया था।

मुरादाबाद के बिलारी में बारिश की वजह से दो मंजिला मकान भरभराकर गिर गया। हादसे में 3 नाबालिग भाई मकान के मलबे के नीचे दब गए। ग्रामीणों ने तीनों को बमुश्किल मलबे से बाहर निकाला। मलबे में दबे भाइयों के हाथ- पैर में फ्रैक्चर हो गया है। तीनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां डॉक्टरों की टीम उनका इलाज कर रही है।

गंगा में 10 मिलीमीटर की रफ्तार से हो रही बढ़ोतरी

गंगा के जलस्तर में दूसरे दिन रविवार को भी वृद्धि दर्ज की गई। 10 मिलीमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से पानी बढ़ रहा है। पर्वतीय इलाकों में बारिश के चलते जलस्तर में बढ़ोतरी हो रही है। पानी बढ़ने से कई घाटों की सीढ़ियां डूबने लगी हैं। इस समय गंगा खतरे से बिंदु से लगभग 10 मीटर नीचे बह रही हैं। यहां गंगा का चेतावनी बिंदु 70.262 मीटर, खतरे का बिंदु 71.262 मीटर है।

लखनऊ में डीएम ने जारी किया अलर्ट

बारिश को लेकर लखनऊ में डीएम ने अलर्ट जारी किया है। उन्होंने मौसम विभाग की चेतावनी के बारे में जानकारी दी है। उन्होंने लोगों से अपील किया है भारी बारिश होने और बिजली चमकने पर बाहर खुले में न घूमे। भवनों और पेड़ों के सम्पर्क में आने से बचे। ऐसे समय में घर पर ही रहे।

19 जुलाई तक बारिश के आसार
कानपुर में शुक्लागंज में गंगा का जलस्तर 111.530 मीटर तक पहुंच गया है। जबकि 113 मीटर पर खतरे का निशान है। वहीं, डाउन-स्ट्रीम में जलस्तर 112.750 मीटर पर है। कानपुर से बैराज के सभी 30 गेट खोलकर 2 लाख 46 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक, 19 जुलाई तक बारिश के आसार बने हुए हैं।

बंगाल की खाड़ी में बन रहा लो प्रेशर क्षेत्र
सीएसए यूनिवर्सिटी के मौसम विज्ञानी डा. एसएन सुनील पांडेय के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी में एक और लो प्रेशर का क्षेत्र बन रहा है। अगर लो प्रेशर का क्षेत्र पूरी तरह बन गया। तो जुलाई के अंत तक बारिश यूपी में हो सकती है।

बाढ़ और बारिश से बिगड़ रहे हैं हालात
भारी बारिश से नोएडा में बाढ़ आ गई है। मथुरा में यमुना खतरे के निशान से सिर्फ 20 सेंटीमीटर दूर है। मथुरा-वृंदावन के 35 गांव में नदी का पानी घुस गया है। लोगों को राहत शिविर में भेजा गया है। पशुओं को रेस्क्यू किया जा रहा है।

गांवों में बाढ़ का पानी आने से 1 हजार लोग घरों में फंसे हुए हैं। विश्राम घाट तक पानी पहुंच चुका है। यमुना का जलस्तर 166 मीटर तक पहुंच गया है। आगरा में श्मशान घाट तक डूब गए हैं। दिल्ली-आगरा नेशनल हाई-वे को यमुना एक्सप्रेस-वे से जोड़ने वाले रोड पर आ गया है। संत विजय कौशल के आश्रम निकुंज वन में भी बाढ़ का पानी घुस गया है। उधऱ, कई जिलों में बारिश-बाढ़ के चलते रेलवे ट्रैक पर पानी भर गया। इस वजह से उत्तर रेलवे ने 200 ट्रेन कैंसिल कर दी है।

आज इन जिलों में भारी बारिश का येलो अलर्ट
मौसम विभाग ने आज आगरा, औरैया, बांदा, चित्रकूट, इटावा, फिरोजाबाद, हमीरपुर, जालौन, झांसी, ललितपुर, महोबा, सहारनपुर के लिए भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है।

इन जिलों में आज बारिश के आसार
अलीगढ़, अमरोहा, बदायूं, बागपत, बुलंदशहर, एटा, फर्रुखाबाद, फतेहपुर, गौतमबुद्धनगर, गाजियाबाद, हापुड़, हाथरस, कन्नौज, कानपुर देहात, कानपुर नगर, कासगंज, कौशांबी, मैनपुरी, मथुरा, मेरठ , मिर्जापुर, प्रयागराज, संभल, शामली और सोनभद में आज गरज-चमक के साथ बारिश के आसार बने हुए हैं।

सूबे के इन जिलों में हुई मूसलाधार बारिश

शहर बारिश (मिमी.)
बहराइच 85.0
वाराणसी 65.0
बाराबंकी 58.0
गाजियाबाद 36.0
लखनऊ 09.0
कानपुर- 22.2 22.2
मुरादाबाद 10.0

Check Also

हर भारतीय के किचन में पहुंची मैगी…..सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक !

नई दिल्ली (ईएमएस)। नेस्ले इंडिया ने हाल ही में खुलासा किया है कि भारत में ...