Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / मौसम विभाग : भीषण लू में घर से निकलने से परहेज करें , इस तरह करें बचाव

मौसम विभाग : भीषण लू में घर से निकलने से परहेज करें , इस तरह करें बचाव

कानपुर (हि.स.)। मानसून का इंतजार कर रहे लोगों को बिजरपॉय तूफान ने निराश कर दिया और एक सप्ताह बाद बारिश की संभावना बन रही है। इस बीच भीषण गर्मी के साथ लू, हीटवेव में तब्दील हो रही है और लोग मौत के काल में समा रहे हैं। इसको लेकर मौसम विभाग ने एडवाइजरी जारी की है कि धूप में निकलने से परहेज करें। इसके साथ ही खान पान और दिनचर्या में भी बदलाव लायें।

चन्द्रशेखर आजाद कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डॉ. एस एन सुनील पाण्डेय ने रविवार को बताया कि कानपुर समेत कई राज्यों में भीषण गर्मी का कहर जारी है। इस गर्मी के चलते लोगों का बुरा हाल है। हर दिन पारा एक नई ऊंचाई पर पहुंच रहा है। इसी के साथ गर्मी में होने वाली बीमारियों ने भी दस्तक दे दी है। गर्मी में धूप और लू के अलावा गंदगी और गलत खान-पान से भी कई लोग बीमार होते हैं। लू लगना या हीट स्ट्रोक ऐसी स्थिति है, जिसका तुरंत इलाज ना कराया जाए तो व्यक्ति की मौत भी हो सकती है। ऐसे में इस मौसम की मार से बचने के लिए कुछ सावधानियां भी बरतनी पड़ेगी।

इस तरह करें बचाव

पहले तो धूप में निकलने से बचें, लेकिन अगर दिन में निकलना जरूरी है तो सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें। कोशिश करें कि दोपहर 12 बजे से 3 बजे के बीच में घर से बाहर ना निकलें। साथ ही सनबर्न से बचने के लिए छतरी, टोपी और ठंडा पानी साथ लेकर निकलें। जितना ज्यादा हो सके उतना लिक्विड डायट का प्रयोग करें। इस गर्मा में मौसमी फलों का जैसे खरबूज, तरबूज, आम, ककड़ी का सेवन जरूर करें। ध्यान दें कि शरीर में पानी की कमी ना हो। बाहर का तला भुना और खुले में बनाई गई कोई भी चीज खाने से बचें, क्योंकि इस मौसम में साफ-सफाई पर बहुत ध्यान देने की जरूरत होती है।

गर्मी में अधिक खाना खाने से परहेज करें. इससे अच्छा आप अपने दिन की शुरुआत मीठे और रसीले फल से कर सकते हैं। प्याज और खीरा सलाद के तौर पर जरूर खाएं, क्योंकि इसमें पर्याप्त मात्रा में पानी पाया जाता है जो शरीर का तापमान नियंत्रित रखता है। इसके साथ ही गर्मी में बाहर निकलें तो अधिक डार्क रंग के और टाइट कपड़े ना पहनें। गर्मी में बहुत अधिक तेल और मसालेदार भोजन करने से बचें. साथ ही, बाहर ठेले पर मिलने वाले फूड आइटम्स का सेवन भी ना करें, क्योंकि इससे फूड पॉइजनिंग भी हो सकती है।

Check Also

इस चुनाव में भी बसपा नहीं जीत सकी उत्तर प्रदेश में एक भी सीट, जानें- कैसे बिगाड़ा खेल?

लखनऊ (हि.स.)। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव की तरह इस चुनाव में भी बसपा उत्तर ...