Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / मानसून की आहट पर रेलवे ट्रैक और पुलों की सुरक्षा की तैयारी शुरू, यात्रा करने से पहले पढ़ें पूरी डिटेल

मानसून की आहट पर रेलवे ट्रैक और पुलों की सुरक्षा की तैयारी शुरू, यात्रा करने से पहले पढ़ें पूरी डिटेल

मुरादाबाद  (हि.स.)। वर्षा ऋतु को देखते हुए रेल विभाग ने रेलवे ट्रेकों और रेलवे पुलों की सुरक्षा का इंतजाम किए हैं। रेल मंडल में 38 स्थानों पर मानसून प्रभावित क्षेत्र है। आने वाले दिनों में मानसून को देखते हुए रेलवे में बड़े पुलों की मानीटरिंग प्रारंभ हो गई है। बारिश में रेलवे ट्रैक और पुलों की सुरक्षा के लिए रेलवे तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटा है। बाढ़खंड के साथ संयुक्त निरीक्षण के बाद रेलवे का फोकस बड़े पुल व अंडरपास पर है।

मुरादाबाद रेल मंडल में वारिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक सुधीर सिंह ने बताया कि मानसून से पूर्व रेलवे ट्रैक व पुलों की सुरक्षा के लिए इंतजाम शुरू कर दिए हैं। मुरादाबाद रेल मंडल में तीन बड़े पुलों पर मानीटरिंग सिस्टम व अंडरपास पर जल निकासी प्रबंधन के इंतजाम किए हैं। बाढ़ खंड के साथ संयुक्त निरीक्षण भी किया गया। 15 जून तक मानसून से सुरक्षा की तैयारी पूरी हो जाएगी।

राजघाट, बालावाली समेत तीन बड़े पुलों पर बरसात के असर को देखते हुए वॉटर लेवल मानीटरिंग सिस्टम लगाए गए हैं। चिन्हित 22 अंडरपासों पर जलभराव को रोकने का काम किया गया है। इसके लिए पानी भरने पर पाइप के जरिए पानी जमीन में जाएगा। हालांकि अभी नौ जगहों पर जल निकासी का काम बाकी है। रेल प्रशासन के अनुसार सप्ताह भर में सुरक्षा की तैयारी पूरी हो जाएगी।

रेल अधिकारियों का मानना है कि मंडल में 38 जगहें प्रभावित एरिया है। ज्यादा बारिश व डैम से छोड़े गए पानी से पुलों की सुरक्षा को खतरा बढ़ जाता है। अब रेलवे ने राजघाट, बालावाली आदि पर पानी स्तर बढ़ने पर वॉटर लेवल मानीटरिंग सिस्टम लगाए है। जबकि मंडल में 22 ऐसे अंडरपास है कि जहां बरसात में पानी भरने से पैदल लोगों की आवाजाही मुश्किल हो जाती है। रेलवे ने यहां जल निकासी प्रबंधन लगाए हैं। अभी 9 जगहों पर निकासी के प्रबंधन का काम बचा है।

Check Also

इस चुनाव में भी बसपा नहीं जीत सकी उत्तर प्रदेश में एक भी सीट, जानें- कैसे बिगाड़ा खेल?

लखनऊ (हि.स.)। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव की तरह इस चुनाव में भी बसपा उत्तर ...