Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / बिपरजॉय तूफान के कमजोर होने से तेजी से आगे बढ़ रहा मानसून, जानिए कब मिलेगी गर्मी से राहत

बिपरजॉय तूफान के कमजोर होने से तेजी से आगे बढ़ रहा मानसून, जानिए कब मिलेगी गर्मी से राहत

कानपुर में 25 जून तक पहुंच सकता है प्री मानसून

कानपुर, (हि.स.)। आमतौर पर मानसून 18 जून के आसपास कानपुर पहुंच जाता है लेकिन इस सीजन में अलनीनो की सक्रियता से उसके आने में देरी हो गयी। रही सही कसर चक्रवाती तूफान बिपरजॉय ने पूरी कर दी। हालांकि बिपरजॉय तूफान के चलते कानपुर में 25 जून को प्री मानसून की बारिश हो सकती है। इसके साथ ही हवाओं की दिशाएं बदलने पर ही मानसून आगे बढ़ेगा और कानपुर में जून के अंत तक या जुलाई के पहले सप्ताह में पहुंचने की संभावना है।

चन्द्रशेखर आजाद कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डॉ. एस एन सुनील पाण्डेय ने रविवार को बताया कि केरल में मानसून की शुरुआत में एक सप्ताह की देरी हुई। 17 जून तक मानसून अपनी सामान्य तिथियों के अनुसार आगे नहीं बढ़ा था। यह वेस्ट कोस्ट, दक्षिण प्रायद्वीप और पूर्वी भारत के साथ-साथ देश के मध्य भाग में समय से पीछे है। अब दक्षिण प्रायद्वीप और पूर्वी भारत में मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल होती जा रही हैं। इस बीच कानपुर मण्डल में 24-25 जून के आसपास चक्रवाती तूफान बिपरजॉय के असर से प्री मानसून की बारिश हो सकती है। इसके साथ ही 18 से 21 जून के बीच बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल में बारिश की गतिविधियां धीरे-धीरे बढ़ सकती हैं। फिलहाल पूर्व के रास्ते आने वाला मानसून बिहार के भागलपुर के आसपास रुका हुआ है, क्योंकि हवाएं अनुकूल नहीं है।

उन्होंने बताया कि अधिकतम तापमान 40.2 और न्यूनतम तापमान 30.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सुबह की सापेक्षिक आर्द्रता 53 और दोपहर की सापेक्षिक आर्द्रता 34 प्रतिशत रही। हवाओं की दिशाएं उत्तर पश्चिम रहीं जिनकी औसत गति 8.8 किमी प्रति घंटा रही। पूर्वानुमान के अनुसार मानसून आने से पहले अगले पांच दिनों में हल्के बादल छाए रहने के कारण 20-23 जून को धूल भरी आंधी के साथ हल्की वर्षा होने की संभावना है।

Check Also

इस चुनाव में भी बसपा नहीं जीत सकी उत्तर प्रदेश में एक भी सीट, जानें- कैसे बिगाड़ा खेल?

लखनऊ (हि.स.)। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव की तरह इस चुनाव में भी बसपा उत्तर ...