Breaking News
Home / अपराध / फ़तेहपुर : महेंद्र की हत्या में प्रेमिका ही बनी विलेन, जब पुलिस ने कस्टडी में लेकर पूछताछ शुरू की तो…

फ़तेहपुर : महेंद्र की हत्या में प्रेमिका ही बनी विलेन, जब पुलिस ने कस्टडी में लेकर पूछताछ शुरू की तो…

– डीजे संचालक की हत्या का पुलिस ने किया राजफाश
– प्रेमिका समेत पांच आरोपी गिरफ्तार

 

खागा/फ़तेहपुर । विगत तीन दिनों पूर्व डीजे संचालक महेंद्र की हत्या कर शव किशनपुर थाना क्षेत्र के ब्योटी गाँव के जंगल मे फेंके जाने के मामले का किशनपुर पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए हत्याभियुक्त म्रतक महेंद्र की प्रेमिका नवविवाहिता राधिका सिंह पति गुड्डू, देवर इंदर सिंह, जयसिंह पुत्र गण स्व० इंदर सिंह व नितिन सिंह पुत्र स्व० जगदीश सिंह को गिरफ्तार किया है जिनकी निशानदेही में पुलिस ने आलाकत्ल दो अदद लाठी, डण्डा एक अदद म्रतक का एंड्रॉयड मोबाइल फोन, एक अदद म्रतक की बाइक भी बरामद कर लिया था।
बता दें कि म्रतक महेंद्र बुदवन गांव निवासी स्व० छत्रपाल सिंह का पुत्र था।

माँ पिता की बीमारी से मौत के बाद म्रतक अपने ननिहाल असोथर थाना क्षेत्र के छिछनी गांव में रहने लगा। जो वहीं के निवासी एक ब्यक्ति के साथ मिलकर डीजे संचालन का कार्य करने लगा। इसी बीच उसके अंतरंग सम्बन्ध छिछनी गांव की स्वजातीय युवती राधिका देवी से हो गये। कुछ दिन बाद राधिका की शादी उसके घर वालों ने ब्योटी गांव निवासी गुड्डू के साथ कर दी लेकिन शादी के बाद भी महेंद्र राधिका से बराबर फोन पर बातचीत करता रहा। जिसकी जानकारी राधिका के पति व देवरों को लग गई थी। जिन्होंने राधिका के प्रेमी को ठिकाने से लगाने की ठान लिया था। जिन्होंने घटना वाले दिन महेंद्र की प्रेमिका नवब्याहता राधिका से फोन करवा महेंद्र को उससे मिलने के बहाने बुलवाया और स्वयं घर के अंदर छिप गये। जैसे ही महेंद्र राधिका से मिलने उसकी ससुराल पहुंचा उसके हत्यारोपित पति व देवरों ने महेंद्र की घर के अन्दर लाठी डंडो से पीट पीट कर निर्मम हत्या कर दिया।

जिन्होंने महेंद्र की हत्या के साक्ष्य को छिपाने के लिए म्रतक के शव को गांव के बाहर स्थित जंगल मे एक सुनसान स्थान पर फेंक दिया। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने म्रतक के शव को बरामद किया था। म्रतक महेंद्र के पड़ोसी गांव निवासी बहनोई रणधीर सिंह निवासी इटोलीपुर की दी गई लिखित तहरीर के आधार पर पुलिस ने अज्ञात में म्रतक महेंद्र की हत्या का मुकद्दमा दर्ज कर मामले की जांच पड़ताल में जुटी थी। इसी दौरान ग्रामीणों के जरिये पुलिस को म्रतक महेंद्र के राधिका के साथ अंतरंग सम्बन्धों की जानकारी हुई।

शक के आधार पर पुलिस ने जब राधिका को कस्टडी में लेकर उससे पूछताछ शुरू की तो उसने महेंद्र की हत्या का जुर्म इकबाल करते हुए हत्यारोपित पति गुड्डू, देवर नर सिंह, जय सिंह व उनके एक दोस्त नितिन के साथ मिलकर महेंद्र की हत्या किये जाने की बात कबूली। पुलिस ने अभियुक्ता प्रेमिका की निशानदेही पर सभी आरोपितों को ब्योटी गांव निवासी ललऊ सिंह के बोरबेल से गिरफ्तार कर लिया जिनके खिलाफ पुलिस ने सुसंगत धाराओं में मामला दर्ज कर जेल भेज दिया। अभियुक्तो की गिरफ्तारी में किशनपुर थाना प्रभारी जेपी शाही, उपनिरीक्षक अखिलेश कुमार, उपनिरीक्षक मो०ताज हसन व उनके महिला पुरुष सिपाहियों ने सराहनीय भूमिका अदा की। घटना के खुलासे के सम्बंध में सीओ अनिल कुमार ने प्रेस वार्ता कर जानकारी दी।

Check Also

हर भारतीय के किचन में पहुंची मैगी…..सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक !

नई दिल्ली (ईएमएस)। नेस्ले इंडिया ने हाल ही में खुलासा किया है कि भारत में ...