Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / पाकिस्तानी महिला सीमा हैदर और उसके प्रेमी सचिन को गौतमबुद्धनगर कोर्ट ने दी जमानत

पाकिस्तानी महिला सीमा हैदर और उसके प्रेमी सचिन को गौतमबुद्धनगर कोर्ट ने दी जमानत

– सीमा ने कोर्ट में कहा- अब वह कभी पाकिस्तान नहीं जाना चाहती, यहीं रहेगी

गौतमबुद्धनगर, 08 जुलाई (हि.स.)। प्रेमी से मिलने के लिए अपने चार बच्चों के साथ उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर के ग्रेटर नोएडा आई पाकिस्तानी महिला सीमा हैदर और रबूपुरा के रहने वाले सचिन मीणा को शनिवार को यहां की एक अदालत ने सशर्त जमानत दे दी। इसके बाद सीमा अपने प्रेमी और बच्चों के साथ घर पहुंची। वह पाकिस्तान से आकर ग्रेटर नोएडा में जिस पते पर रह रही थी वहीं रहेगी और दोनों देश छोड़कर नहीं जाएंगे।

गौतमबुद्धनगर की एक अदालत में सीमा के वकील ने दलील दी कि पाकिस्तान से ग्रेटर नोएडा के रबूपुरा आकर रहने वाली सीमा हैदर और उसके प्रेमी सचिन मीणा ने नेपाल स्थित काठमांडू के पशुपतिनाथ मंदिर में शादी कर चुके हैं। अब वो अपने बच्चों को लेकर पति सचिन के साथ रहना चाहती है।

सीमा ने भी न्यायाधीश से अपील की कि वह अब भारत में ही रहेगी और कभी पाकिस्तान नहीं जाना चाहती। इसके बाद अदालत ने सीमा उसके पति सचिन और ससुर नेत्रपाल को सशर्त जमानत दे दी। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि जब तक मामले की सुनवाई चल रही है तब तक सचिन और सीमा अपने घर का पता नहीं बदलेंगे। देश छोड़कर नहीं जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान के कराची निवासी सीमा हैदर को पबजी गेम खेलते हुए नोएडा के रबूपुरा निवासी सचिन मीणा से प्रेम हुआ था। इसके बाद दोनों ने एक साथ रहने की ठान ली। सीमा अपने चार बच्चों के साथ नेपाल के रास्ते अवैध तरीके से 13 मई को भारत आई। ग्रेटर नोएडा के रबुपुरामें किराए का मकान लेकर प्रेमी सचिन पाकिस्तानी प्रेमिका और उसके चार बच्चों के साथ रह रहा था। दोनों पति-पत्नी के रूप में रह रहे थे। जब पुलिस को इस बात की भनक लगी तो सचिन और सीमा बच्चों समेत घर छोड़कर भाग गए। काफी खोजबीन के बाद पुलिस ने सीमा हैदर, सचिन और सचिन के पिता नेत्रपाल को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया था।

आरोपितों के अधिवक्ता ने अदालत में तीनों की जमानत के लिए अर्जी दाखिल की। इसमें दलील दी गयी कि सचिन और सीमा एक दूसरे से प्रेम करते हैं। उन्होंने एक दूसरे के साथ जीने-मरने की कस्में खाई हैं। सचिन और सीमा ने काठमांडू के पशुपतिनाथ मंदिर में शादी कर ली थी। शादी के बाद ही सीमा ने नेपाल से भारत की सीमा में प्रवेश किया है। कोर्ट ने दलील सुनने के बाद सशर्त जमानत दे दी है।

Check Also

कानपुर : फेरों से पहले दूल्हे के गहने लेकर दुल्हन हुई रफूचक्कर, जब बराती ने रास्ता रोका तो

 बराती ने रास्ता रोका तो भाइयों ने उठाकर पटका कानपुर। ग्यारह हसबैंडों का बैंड बजाने ...