Breaking News
Home / अपराध / डेयरी संचालक का शव फांसी के फंदे पर लटका मिला, भाजपा नेता के पुत्र पर आरोप

डेयरी संचालक का शव फांसी के फंदे पर लटका मिला, भाजपा नेता के पुत्र पर आरोप

फर्रुखाबाद,  (हि.स.)। मोहम्मदाबाद थाना क्षेत्र में दूध डेयरी संचालक का शव सोमवार को पेड़ पर फांसी के फंदे से लटका मिला है। मृतक के पिता ने भारतीय जनता पार्टी मोहम्मदाबाद दक्षिण के मंडल अध्यक्ष प्रताप वर्मा के पुत्र अतुल वर्मा एवं भाई रघुवीर पर हत्या कर शव फांसी पर लटकाने का आरोप लगाया है।

मोहम्मदाबाद थाना क्षेत्र के गांव रैसेपुर निवासी रावेंद्र सिंह राजपूत का 26 वर्षीय पुत्र आदित्य कुमार का शव पड़ोस के गांव जैतपुर निवासी राजवीर के खेत में आम के पेड़ से आज लटका देखा गया। जिसकी सूचना राहगीर ने परिजनों को दी। मृतक के पिता रावेंद्र सिंह ने बताया कि बीती रात में गांव से 500 मीटर की दूरी पर लगे सबमर्सिबल पर लेटे थे। तभी गांव के ही अतुल पुत्र प्रताप वर्मा, रघुवीर पुत्र मोरपाल, सरनाम पुत्र मौजी लाल ने लगभग मध्य रात में हमला कर दिया। जिससे मेरे तीन दांत टूट गए। चीख पुकार सुनकर ग्रामीणों के आने पर हमलावर भाग गए। रात्रि को ही डायल 112 को सूचना दी गई। जब घटनास्थल पर 112 नंबर पुलिस पहुंची तो उन्हें एक हमलावर का फोन मिल गया। पुलिस फोन को अपने साथ ले गई।

रावेंद्र सिंह ने बताया कि इसी घटना के दौरान उनका पुत्र आदित्य गायब हो गया। इधर-उधर खोजने पर आदित्य का कही पता नहीं चला। भट्टे पर घोड़ा बुग्गी चलाने वाले उधर से गुजरे तो उन्होंने बताया कि पेड़ पर किसी का शव लटका है। जानकारी करने पर पता चला कि शव मेरे बेटे आदित्य का है।

उन्होंने बताया कि परिवार के विमल का खेत रघुवीर के पिता मोरपाल उगाई पर लिया करते थे। इस वर्ष खेत मोरपाल को नहीं दिया, जिससे रघुवीर को लगता था कि रावेंद्र की वजह से खेत नहीं मिला। इस बात को लेकर रघुवीर मुझसे खुन्नस मानने लगा। घात लगा कर मेरे ऊपर हमला किया और मेरे पुत्र को अगवा करके मार दिया। हत्या के बाद शव को लटकाकर आत्महत्या करना दर्शाया है।

सूचना मिलने पर कोतवाली प्रभारी अमरपाल सिंह पुलिस के साथ पहुंचे। क्षेत्राधिकारी अनिल कुमार सिंह ने परिजनों से बात करके घटना की जानकारी की। फॉरेंसिक टीम ने नमूने लिए। एसआई आसाराम गोयल ने पंचनामा भर कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। मृतक के पिता रावेंद्र के दो पुत्रों बड़ा धर्मेंद्र खेती करता है और मृतक छोटा बेटा आदित्य गांव में एक दूध कम्पनी की डेयरी चलाता था।

सूत्रों से पता लगा कि जिन पर हत्या का आरोप है उन तीनों के साथ आदित्य की दोस्ती थी और रात्रि में जब पिता पर हमला हुआ था तो आदित्य भी उन्हीं के साथ था। हमले के बाद से वह गायब हो गया था और आज उसका शव पेड़ पर उसी की लोअर से लटका मिला है। प्रभारी निरीक्षक अमर पाल सिंह ने बताया कि तहरीर मिलने पर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी।

Check Also

इस चुनाव में भी बसपा नहीं जीत सकी उत्तर प्रदेश में एक भी सीट, जानें- कैसे बिगाड़ा खेल?

लखनऊ (हि.स.)। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव की तरह इस चुनाव में भी बसपा उत्तर ...