Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / डीडीपुरम में तीन करोड़ से बनेगा फूड कोर्ट, मिलेगा लजीज व्यंजनों का लुत्फ, जानिए क्या है तैयारी

डीडीपुरम में तीन करोड़ से बनेगा फूड कोर्ट, मिलेगा लजीज व्यंजनों का लुत्फ, जानिए क्या है तैयारी

मुख्यमंत्री के निर्देश पर स्मार्ट सिटी को और स्मार्ट बनाने की कवायद शुरू 
 
स्मार्ट सिटी की ब्रांडिंग के लिए शहर के स्थान चिन्हित कर होगी थ्री डी वॉल पेंटिंग
 
 राइफल क्लब के इंटीरियर डिजाइन के टेंडर प्रस्ताव पर भी लगी मुहर 
बरेली।   शहर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर शहर को और स्मार्ट बनाने की कवायद शुरू हो गई है। कमिश्नर सौम्या अग्रवाल ने स्मार्ट सिटी लिमिटेड बोर्ड बैठक में डीडीपुरम में फूड कोर्ट बनाए जाने को मंजूरी दे दी है। तीन करोड़ की लागत से आगरा बाजार के तर्ज पर डीडीपुरम में कुष्ठ आश्रम की जमीन पर फूड कोर्ट बनाया जाएगा। नगर निगम वहां पार्किंग की व्यवस्था करेगा। पूरा एरिया ग्रीनलैंड रहेगा। वहां कैनोपी लगाई जाएंगी। लैंडस्कैपिंग होगी। तीनों और स्टाल लगाए जाएंगे  कमिश्नर सौम्या अग्रवाल ने बताया कि जुलाई के प्रथम सप्ताह में काम शुरू हो जाएगा। इसकी मंजूरी दे दी गई है। नगर निगम वहां इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार कर देगा, लाइट और पानी की व्यवस्था की जाएगी। इसके बाद अपनी सुविधानुसार वहां इच्छुक व्यक्ति व्यंजनों के स्टाल लगा सकेंगे।
शहर में विभिन्न स्थानों पर नजर आएंगी थ्री डी वॉल पेंटिंग से स्मार्ट सिटी की झलकियां
 महापुरुषों के चित्रों से लेकर स्मार्ट सिटी को और अधिक सुंदर बनाने के लिए शहर के विभिन्न स्थानों को चिन्हित किया जा रहा है। उन स्थानों पर स्मार्ट सिटी की ब्रांडिंग के लिए 3D वॉल पेंटिंग की जाएगी। स्मार्ट सिटी योजना के अंतर्गत इसको भी मंजूरी दी गई है। इसके अलावा राइफल क्लब परियोजना के इंटीरियर कार्य पर भी मुहर लगा दी गई है। जिससे राइफल क्लब के सौंदर्यीकरण में चार चांद लगाया जा सके।
स्मार्ट सिटी में वूमेन हेल्प डेस्क, शी लॉज, ई किओस्क से मिल रही लोगों को सुविधाएं
कमिश्नर ने बताया कि बरेली सिटी के अंतर्गत वूमेन हेल्प डेस्क, शी लॉज जैसी परियोजनाओं से शहर के लोगों को सीधा लाभ मिल रहा है। कमिश्नर ने सभी परियोजनाओं के रखरखाव और मॉनिटरिंग की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिए कि जन सुविधाओं से जुड़ी चीजों में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसे प्राथमिकता के आधार पर सजाएं और संवारे। लोगों को अधिक से अधिक सुविधाएं दें। बैठक में डीएम शिवाकांत द्विवेदी, नगर आयुक्त निधि गुप्ता, संयुक्त आयुक्त उद्योग ऋषि रंजन गोयल, मुख्य अभियंता लोक निर्माण संजय तिवारी, अधीक्षण अभियंता विद्युत विकास सिंघल, सुनील कुमार यादव, सहायक अभियंता सुशील कुमार सक्सेना, रोहित सिंह समेत कई अधिकारी मौजूद थे।

Check Also

कानपुर : फेरों से पहले दूल्हे के गहने लेकर दुल्हन हुई रफूचक्कर, जब बराती ने रास्ता रोका तो

 बराती ने रास्ता रोका तो भाइयों ने उठाकर पटका कानपुर। ग्यारह हसबैंडों का बैंड बजाने ...