Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / गोरखपुर : औद्योगिक क्षेत्र में करीब 20 करोड़ की लागत से सुदृढ़ की जाएगी रोड कनेक्टिविटी

गोरखपुर : औद्योगिक क्षेत्र में करीब 20 करोड़ की लागत से सुदृढ़ की जाएगी रोड कनेक्टिविटी

उद्यमियों को शानदार बेसिक इंफ्रास्ट्रक्चर देने में जुटा गीडा

योगी के सीएम बनने के बाद देश एवं बहुराष्ट्रीय कंपनियों को भाने लगा गीडा

गोरखपुर । योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद बीते छह साल से निवेश के पसंदीदा गंतव्य में शुमार गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण (गीडा) में उद्यमियों को कार्य सुगमता के लिए शानदार बेसिक इंफ्रास्ट्रक्चर मिलेगा। इस निमित्त करोड़ों रुपये खर्च कर कराए जा रहे विकास कार्यों में करीब बीस करोड़ रुपये और जुड़ने जा रहे हैं। वाह्य क्षेत्र में फोरलेन से जुड़े औद्योगिक क्षेत्र की आंतरिक रोड कनेक्टिविटी के लिए गीडा प्रशासन ने नए टेंडर निकाले हैं।

फरवरी में हुए ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में गोरखपुर को करीब पौने दो लाख रुपये के निवेश प्रस्ताव मिले थे। इनमें से अधिकतर प्रस्ताव गीडा में यूनिट लगाने के लिए हैं। निवेश प्रस्तावों को धरातल पर उतारने के लिए ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी की तैयारी भी गीडा ने शुरू कर दी है। ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में साढ़े बारह हजार करोड़ रुपये के निवेश प्रस्तावों को अमलीजामा पहनाया जाएगा। इसके दृष्टिगत गीडा प्रशासन औद्योगिक क्षेत्र के साथ व्यावसायिक क्षेत्र में भी इंफ्रास्ट्रक्चर का संजाल बिछाने में जुटा हुआ है।
इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट में की कड़ी में पूर्व में बनी सड़कों के चौड़ीकरण, सुदृढ़ीकरण के साथ नई सड़कें बनाई जाएंगी। इसके लिए टेंडर निकाल दिया गया है।

औद्योगिक क्षेत्र में करीब 20 करोड़ की लागत से सुदृढ़ की जाएगी रोड कनेक्टिविटी
इस क्रम में गीडा के सेक्टर 13/15 (हर्रैया कानूनगो) में 9 करोड़ 4 लाख रुपये की लागत से 50 मीटर चौड़ी सड़क, आरसीसी ड्रेन का निर्माण कराया जाएगा। सेक्टर 15 के रोड नम्बर दो के चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण में 4 करोड़ 12 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। सेक्टर 13 (कालेसर) 18 मीटर चौड़ी सड़क के साथ आरसीसी ड्रेन के निर्माण के लिए 3 करोड़ 38 लाख रुपये का टेंडर जारी किया गया है। इसी सेक्टर में एक अन्य सड़क के निर्माण के लिए 1 करोड़ 26 लाख रुपये खर्च होंगे। जबकि सेक्टर 13 व 15 में अलग अलग सड़कों के चौड़ीकरण व अनुरक्षण कार्य के लिए क्रमशः 33.22 लाख, 30.22 लाख, 26.11 लाख व 87.88 लाख रुपये के टेंडर निकाले जा चुके हैं। इन सभी कार्यों को छह माह की अवधि में पूरा किया जाना है।

गीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी पवन अग्रवाल का कहना है कि मुख्यमंत्री जी की मंशा के अनुरूप उद्यमियों को उत्कृष्ट इंफ्रास्ट्रक्चर उपलब्ध कराने की दिशा में लगातार काम चल रहा है। करीब सौ करोड़ रुपये के विकास कार्य (सिविल व इलेक्ट्रिकल) गीडा के अलग-अलग सेक्टर में जारी हैं। 50 करोड़ की लागत के कार्य जल्द शुरू हो जाएंगे। इसके साथ ही इंटरनल रोड कनेक्टिविटी के लिए करीब 20 करोड़ रुपये के नए कार्यों के टेंडर निकाले गए हैं।

नई भर्ती से भूमि अधिग्रहण से लेकर उद्यमियों को आवंटन तक तेज होगी रफ्तार
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर गीडा प्रशासन लैंड बैंक बढ़ाने में जुटा हुआ है। लैंड बैंक बढ़ाने के लिए भूमि अधिग्रहण और उद्यमियों को भूमि आवंटन के काम में तेजी लाने के लिए गीडा में समूह ख व ग के 34 पदों पर ग आवधिक भर्ती की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। तहसीलदार, सहायक प्रबंधक, नायब तहसीलदार, कानूनगो, लेखपाल आदि कुल 34 पदों के लिए वेतन मद में प्रति माह 2.60 लाख रुपये का खर्च आएगा। पर्याप्त मैनपावर होने से प्रक्रियात्मक कार्यों को रफ्तार मिलेगी।

Check Also

बाराबंकी : संदिग्ध परिस्थितियों में बालिका की मौत, कहीं हत्या तो नहीं

देवा थाना क्षेत्र के मोहल्ला कचेहरान में 12 वर्षीय बालिका का शव छत में लगे ...