Breaking News
Home / अपराध / किशोरी ने लगाई फांसी, घर वालों ने शव दफनाया, जानिए पूरा मामला

किशोरी ने लगाई फांसी, घर वालों ने शव दफनाया, जानिए पूरा मामला

औरैया,  (हि. स.)। जनपद के फफूंद थाना क्षेत्र के गांव दौलतपुर में बीमारी से पीड़ित एक किशोरी ने फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। गांव के लोगों ने शव को नदी के किनारे गाड़ दिया। गांव के एक युवक ने 112 पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही मौके पर सीओ व अपर पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंचे और जांच-पड़ताल की।

थाना क्षेत्र के गांव दौलतपुर निवासी राम बिलास कोरी व उसकी पत्नी टीवी की मरीज है। गरीबी के कारण राम बिलास कोरी 15 दिन पूर्व अहमदाबाद में प्राइवेट नौकरी करने गया था। पत्नी आरती देवी गांव में काम कर घर का भरण-पोषण करती है।

राम बिलास की पुत्री सिमरन 10 वर्ष को दो दिनों से बुखार आ रहा था शनिवार की शाम को गांव निवासी जगदीश कोरी के पुत्र की बारात गई थी।घर के लोगों के लिए खाना बनाने माँ आरती देवी गई थी।खाना बनाकर जब घर पर वापस लौटी तो पुत्री सिमरन को बुखार था। माँ ने दवा खिलाकर पुत्री सिमरन को सुला दिया। सुबह माँ जागी और जगदीश कोरी के घर खाना बनाने चली गई। तभी कुछ देर बादद बड़ा पुत्र 13 वर्षीय प्रायन्शु ने माँ को सूचना दी कि दीदी ने फांसी लगा ली है। माँ जब घर पर आई तो देखा कि पुत्री सिमरन फाँसी पर लटकी थी,चीख पुकार की आवाज सुनकर गांव के लोग आ गये। उन्होंने फंदे से शव उतार लिया और शव को नदी के किनारे गाड़ दिया।तभी गांव निवासी एक युवक ने 112 पुलिस को हत्या की सूचना रविवार को दी। सूचना मिलते ही मौके पर थाना पुलिस सहित सीओ अजीतमल भरत पासवान,अपर पुलिस अधीक्षक दिगम्बर कुशवाह सहित पुलिस अधीक्षक चारु निगम मौके पर पहुंची, जांच पड़ताल की और नदी के किनारे पहुंच कर शव को देखा।

इस सम्बंध में अपर पुलिस अधीक्षक दिगम्बर कुशवाह ने बताया कि गांव के एक युवक ने सूचना दी थी कि एक किशोरी ने सन्दिग्ध परिस्थिति में फांसी लगा ली है। सूचना पर हम लोग आए हैं। जांच की जा रही है। किशोरी बीमार रहती थी, यह पता चला है। पिता को सूचना दी गई है। वह अहमदाबाद में हैं। आ रहे हैं। अगर वह कुछ कहते हैं तो अग्रिम कार्यवाही की जाएगी।

Check Also

इस चुनाव में भी बसपा नहीं जीत सकी उत्तर प्रदेश में एक भी सीट, जानें- कैसे बिगाड़ा खेल?

लखनऊ (हि.स.)। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव की तरह इस चुनाव में भी बसपा उत्तर ...