Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / कांवड़ यात्रा के स्वागत को प्रशासन तैयार, दो हजार पुलिस बल सुरक्षा में तैनात

कांवड़ यात्रा के स्वागत को प्रशासन तैयार, दो हजार पुलिस बल सुरक्षा में तैनात

बागपथ,   (हि.स.)। बागपत प्रशासन ने कांवड़ यात्रा की सुरक्षा के साथ-साथ व्यवस्था को भी बेहतर बनाया है। सुरक्षा में दो हजार से अधिक पुलिस कर्मी लगाए गये हैं। जिले में वाटर प्रूफ कांवड़ शिविर लगाकर बेहतर जलपान की व्यवस्था की गयी है। जिला प्रशासन ने कांवड़ यात्रा के स्वागत की तैयारी पूरी कर ली है।

पुलिस अधीक्षक अर्पित विजय वर्गीय व एएसपी मनीष मिश्र ने शनिवार को भड़क चौक पोस्ट कांवड़ मार्ग का भ्रमण किया। सुरक्षा व्यवस्था के साथ-साथ कांवड़ मार्ग पर लगने वाले शिविरों का निरीक्षण किया।

एएसपी मनीष मिश्र ने बताया कि इस बार सभी कांवड़ मार्ग पर लगने वाले सेवा शिविरों को बाईं और लगाया गया है। सुरक्षा को देखते रूट डायवर्जन किये गये हैं। भारी वाहनों के चलने पर 13 दिन के लिए रोक लगा दी गयी है। मार्गों पर संकेतिक चिन्ह व होर्डिंग लगाकर जागरूक किया गया है। सीसीटीवी कैमरों से सभी मार्गों की निगरानी की जा रही है। दो हजार से ज्यादा पुलिस कर्मी इस बार सुरक्षा व्यवस्था में लगाए गये हैं। कांवड़ मार्गों पर बिजली के खंबों को बैरिकेट किया गया है। ताकि कोई हादसा न हो। हरियाणा के कांवड़ियों को बुढ़ाना से होते हुए बड़ौत व दिल्ली सहारनपूर हाईव के जरिए बागपत सीमा को पार करेंगे। पूरा माहदेव पहुंचने वाले पैदल कांवड़ियों को दाहा, पलड़ी, बरनावा, शेखपुरा, चिरचिटा होते हुए पुरामहादेव मंदिर पहुंचेंगें।

एएससी ने बताया कि कांवड़ यात्रा मार्ग पर 17 स्वास्थ शिविर लगाकर चिकित्सा व्यवस्था की गयी है। 15 मोबाईल बाईक एंबुलेंस चलाई जा रही है। भड़ल मार्ग पर पड़ने वाली चर्म शोधन इकाइंयों को बंद रखा गया है। शराब की दुकानों, मीट की दुकानें भी बंद रहेंगी।

जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि कांवड़ मार्गों की साफ सफाई, बिजली, पानी, दवाईयों का छिड़काव के निर्देश दिये हैं।

Check Also

बाराबंकी : संदिग्ध परिस्थितियों में बालिका की मौत, कहीं हत्या तो नहीं

देवा थाना क्षेत्र के मोहल्ला कचेहरान में 12 वर्षीय बालिका का शव छत में लगे ...