Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / आधार प्रमाणीकरण को लेकर गंभीर नहीं, 12091 लाभार्थी विधवा पेंशन से होंगे वंचित

आधार प्रमाणीकरण को लेकर गंभीर नहीं, 12091 लाभार्थी विधवा पेंशन से होंगे वंचित

– 34226 लाभार्थियों का ही हो पाया आधार प्रमाणीकरण व केवाईसी

– मीरजापुर में वर्तमान में विधवा पेंशन के हैं 48787 लाभार्थी

– आधार प्रमाणीकरण व केवाईसी कराएं लाभार्थी, वरना रूकेगी पेंशन तो बढ़ेगी टेंशन

मीरजापुर,  (हि.स.)। जनपद में विधवा पेंशन के 12091 लाभार्थी ऐसे हैं जिनका अब तक केवाईसी ही नहीं हो पाया है और न ही इनका सत्यापन हो पा रहा है। ऐसे में इनको विधवा पेंशन कैसे दिया जाएगा, इसको लेकर विभाग चिंतित है। यह भी कि यदि इन्हें ब्लाक भी कर दिया जाए तो बाद में इनके आने पर बड़ी समस्या खड़ी हो जाएगी। ऐसे में उक्त लाभार्थियों का पता लगाया जा रहा है।

जिला प्रोबेशन विभाग के मुताबिक जनपद में 48787 लाभार्थियों को विधवा पेंशन अब तक दिया जाता रहा है। इसके अलावा हर वर्ष इनका सत्यापन किया जाता है। जो मृत होते हैं उनका नाम सूची से हटाया जाता है। यहां तक कि इस बार आधार प्रमाणीकरण के साथ केवाईसी किया जा रहा है। हालांकि अब तक उक्त लाभार्थियों में 34226 का ही आधार प्रमाणीकरण और केवाईसी हो पाया है। वहीं 12 हजार से ज्यादा लाभार्थियों का अब तक पता नहीं चल पाया है। ऐसे में इनका विधवा पेंशन रुक सकता है।

जिला प्रोबेशन अधिकारी शक्ति त्रिपाठी ने बताया कि 12091 लाभार्थियों के विधवा पेंशन के लिए अब तक आधार प्रमाणीकरण व केवाईसी नहीं हो पाया है। ऐसे में जल्द इसे करा लें, नहीं तो विधवा पेंशन की प्रतिमाह मिलने वाली 1000 रुपये धनराशि रुक जाएगी।

536 लंबित, 939 लाभार्थी संदेह के दायरे में

विभाग के मुताबिक आधार प्रमाणीकरण व केवाईसी के लिए अब भी 536 लाभार्थियों के खाते लंबित हैं। वहीं 939 लाभार्थी ऐसे हैं जो संदेह के दायरे में हैं। इनका निदेशालय से खाता लाक हो गया है। ऐसे में इसका भी सत्यापन नए सिरे से किया जाएगा।

Check Also

हर भारतीय के किचन में पहुंची मैगी…..सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक !

नई दिल्ली (ईएमएस)। नेस्ले इंडिया ने हाल ही में खुलासा किया है कि भारत में ...