Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / अफजाल के लिए भर्ती मरीज को वार्ड से निकालने का मामला, मेडिकल कॉलेज ने किया इंकार

अफजाल के लिए भर्ती मरीज को वार्ड से निकालने का मामला, मेडिकल कॉलेज ने किया इंकार

गाजीपुर  (हि.स.)। गाजीपुर लोकसभा से निवर्तमान सांसद अफजाल अंसारी के जेल में तबीयत बिगड़ने की सूचना के बाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल में एक मरीज को वार्ड से बाहर निकाले जाने की खबर चर्चा में आ गई है। हालांकि अफजाल को अस्पताल लाए जाने की नौबत नहीं आ सकी। उन्हें जिला जेल अस्पताल में ही उपचार से राहत मिलने की बात सामने आ रही है।

उल्लेखनीय है कि जिला जेल में बीते बुधवार की रात गाजीपुर लोकसभा क्षेत्र से निलंबित सांसद अफजाल अंसारी की तबीयत खराब हो गई। इसको लेकर पूरा जेल प्रशासन सकते में आ गया। उन्हें जेल से बाहर जिला मेडिकल कॉलेज में लाए जाने की सूचना जंगल में लगी आग की तरह फैल गई। इस दौरान पहले से अस्पताल में इलाज करा रहे मरीज उमेश श्रीवास्तव की मानें तो अफजाल अंसारी को अस्पताल लाए जाने की सूचना मिलने पर पहले से उक्त वार्ड में भर्ती उनके पिता कमलाकर लाल (90) को स्ट्रेचर पर लिटा कर वार्ड से बाहर कर दिया गया। हालांकि बाद में सूचना आई कि जेल अस्पताल में ही अफजाल अंसारी को इलाज मिलने से राहत मिल गई है। इसके बाद मरीज कमलाकर लाल को पुनः उनके वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया।

अफजाल अंसारी को मेडिकल कॉलेज में लाने की सूचना पर पहले से भर्ती मरीज को बाहर निकाले जाने की घटना पर मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आनंद कुमार मिश्र ने शुक्रवार को बताया कि इस तरह की कोई घटना नहीं हुई है। पूर्व से भर्ती मरीज कमलाकर लाल के कूल्हे का ऑपरेशन हुआ है। उन्हें तेज बुखार हो रहा था। ऐसे में चिकित्सा प्रोटोकॉल के तहत उनका वार्ड बदला जा रहा था। उन्होंने अफजाल को मेडिकल कॉलेज लाए जाने की सूचना व उनके इंतजाम के लिए किसी मरीज को बाहर निकाले जाने की घटना से इनकार किया है।

Check Also

कानपुर : फेरों से पहले दूल्हे के गहने लेकर दुल्हन हुई रफूचक्कर, जब बराती ने रास्ता रोका तो

 बराती ने रास्ता रोका तो भाइयों ने उठाकर पटका कानपुर। ग्यारह हसबैंडों का बैंड बजाने ...